Take Screenshot, Crop & Share image with Friends & Family


आज भी इंसानी दुनिया रीत में पुराने हैं
कितनी सदियाँ बीत गई, आनेवाली हजारों हैं

जोड़ सकना भी ख़ुदा के हाथ की अब बात नहीं
क्या करेगा वो भला भी, बेवफा हजारों हैं

कोई ना बतलाए किसी को, किस तरह से वो जीए
जीने के हैं लाखों तरीके, जीनवाले हजारों हैं

बातें करने में तो हमसे दुनिया वाले बेहतर हैं
राम-राम को रटने वाले रावण यहाँ हजारों हैं

/99Chutkule

/99Chutkule

< Older

Login

Newer >

Create ID / Password
Search Jokes in Site

Go to Live Fun Forum